भक्ति ज्योत


                     Shri Mridul Krishan Goswami

Mrudal krishanji maharaj

                                . भक्ति  ज्योत

ताः११/९/२०१३                                            प्रदीप ब्रह्मभट्ट

भक्ति प्रेमकी ज्योत लेकर,ह्युस्टन आये  श्रीमृदुलजी आज
प्रेमभावना  भक्तोकी  देखकर,श्री कृष्णकी कृपा  हो गई आज
.                                   ……………..भक्ति प्रेमकी ज्योत लेकर.
अनंतआनंद होगा सबको,जब मृदुलजीकी कथा सुनेंगे  साथ
भक्तिभावना कथासे देकर,करेंगे सच्ची  भक्तिका गुणगान
कलीयुगकी चादरको  छुडाके,लेजायेंगे भक्तोको प्रभुके द्वार
निर्मलताका सहवास दीलाके,कर जायेंगे जीवोका कल्याण
.                                    ……………..भक्ति प्रेमकी ज्योत लेकर.
मिलेगी शांन्ति भक्तिसे जीवोको,ना जगमे है कोइ देनार
अपार कृपा हो अवीनाशीकी,जहां प्रेमसे ये कथा सुनी जाय
अंतरमें आनंद रहे जीवको,और  मनमें शांन्ति  रहे अपार
तनमनधनसे  कृपा रहे देवकीनंदनकी,उज्वळ जीवन थाय
.                                 ……………….भक्ति प्रेमकी ज्योत लेकर.

****************************************************************
.                     .ह्युस्टनके  भक्तोकी  विनंती सुनकर  देवकीनंदन श्री  कृष्णकी कृपा हुइ और
महान कथाकार श्री  मृदुल कृष्ण  गोस्वामीजी  महाराज  हमारे ह्युस्टनमें पधारे  है हम सब
राधाकृष्ण मंदीरके भक्तो प्रेमसे उनका  स्वागत करते है.  सब भक्तोकी  औरसे  ये यादगीरी
दी  जा रही है  प्रेम से स्वीकारके आशिर्वाद देना
ये  हमारी अपेक्षा सहित वंदन.
ली.प्रदीप ब्रह्मभट्ट  और बांके बिहारी  परिवारके साथ सौ  श्री कृष्ण  भक्तोकी  याद.

ताः११/९/२०१३                                                                       ह्युस्टन,टेक्षास,यु.एस.ए.

Advertisements

પ્રતિસાદ આપો

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / બદલો )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / બદલો )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / બદલો )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / બદલો )

Connecting to %s

%d bloggers like this: